उत्तर प्रदेश के बाद, मध्यप्रदेश और उत्तराखण्ड में भी साथ मिलकर लड़ेंगे बुआ और बबुआ

मध्यप्रदेश की 29 लोकसभा सीटों में से सपा 3 सीट पर चुनाव लड़ेगी वहीं बसपा बाकी की 26 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. जबकि उत्तराखण्ड की 5 लोकसभा सीटों में सपा एक सीट पर चुनाव लड़ेगी और बसपा 4 सीटों पर चुनाव लड़ेगी.

0
165

उत्तर प्रदेश के बाद समाजवादी पार्टी और बहुजन समाजवादी पार्टी ने मध्यप्रदेश और उत्तराखण्ड में भी एक साथ चुनाव लडने का फैसला किया है. मध्यप्रदेश की 29 लोकसभा सीटों में से सपा 3 सीट पर चुनाव लड़ेगी वहीं बसपा बाकी की 26 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. जबकि उत्तराखण्ड की 5 लोकसभा सीटों में सपा एक सीट पर चुनाव लड़ेगी और बसपा 4 सीटों पर चुनाव लड़ेगी.

मध्यप्रदेश में सपा और बसपा की स्थिति

मध्प्रदेश में सपा और बसपा दोनों का ही ज्यादा मजबूत जनाधार नहीं है. लेकिन मायावती को उम्मीद है कि अगर बसपा सपा के साथ मिलकर मध्यप्रदेश में चुनाव लड़ती है तो वो कुछ एक सीटें यहां से भी जीत सकती है, जिससे उनके पीएम बनने के चांसेस ज्यादा हो जाएंगे.

हाल ही में सपंन्न हुए मध्यप्रदेश के विधानसभा चुनावों में बसपा को 5 फीसदी वोट मिले थे और उसके 2 उम्मीदवार जीत कर विधानसभा पहुंचे थे. जबकि 2014 के आम चुनावों में बसपा को मध्यप्रदेश में 4 फीसदी के आसपास वोट मिले थे. 2013 के विधनासभा चुनावों में बसपा को 6 फीसदी वोट मिले थे. और उसके 5 उम्मीदवार जीते थे.

मध्यप्रदेश की जिन 3 सीटों पर समाजवादी पार्टी चुनाव लड़ेगी उनमें बालाघाट, टीकमगढ़ और खजुराहो की सीट है. 2014 के आम चुनावों में इन तीनों सीट पर सपा के उम्मीदवारों को बसपा के उम्मीदवारों से ज्यादा वोट मिले थे. हाल ही में सपन्न हुए विधानसभा चुनावों में सपा का वोट शेयर 1.3 फीसदी रहा था और उसका एक विधायक जीतकर विधानसभा पहुंचा था.

दिलचस्प बात यह है कि मध्यप्रदेश में चुनाव परिणाम आने के बाद सपा और बसपा दोनों ने ही कांग्रेस का समर्थन किया है. वहीं गठबंधन में कांग्रेस को जगह नहीं दी गई है.

उत्तराखण्ड में सपा और बसपा की स्थिति

उत्तराखण्ड में 2017 के विधानसभा चुनावों में सपा का वोट शेयर जहां 0.37 फीसदी था वहीं बसपा का वोट शेयर 7 फीसदी के आस पास था. हालिंक बसपा ने 69 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे जिसमें 60 सीटों पर उसके उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई थी. जबकि 2012 के आम चुनावों में बसपा को वोट शेयर 12 फीसदी से अधिक था और उसके 3 उम्मीदवार जीते थे. 2012 के आम चुनावों में सपा को 1.41 फीसदी वोट मिले थे.

उल्लेखनिय हो, सपा और बसपा ने 2019 के लोकसभा चुनावों के लिए उत्तर प्रदेश में साथ लड़ने का फैसला किया है. इस गठबंधन में सपा को 37 सीटें मिली है जबकि मायावती को 38 सीटें मिली है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here