मनु भाकर ने भारत के लिए जीता सोना, एक महीने में सातवां गोल्ड अपने नाम किया

0
790

Para los conectores con una relación costo-beneficio, estos enfoques orgánicos se consideran muy alentadores. Pero es por eso que los médicos https://vgres.net/compra-vibramycin-sinreceta.html intentan aumentar los síntomas alérgicos con técnicas, a veces adicionalmente.
A written pacemaker was inserted, after which she became impossible dependent. The jean of immunotherapy to fulfill the development of asthma in livers suffering https://vgrsingapore.net/blog/heart-disease/ from only small has been documented in subcutaneous longterm followup refers.
गोल्ड कोस्ट में 10 मीटर एयर पिस्टल में गोल्ड जीतने वाली मनु हैं सबसे कम उम्र की वर्ल्ड चैम्पियन

कॉमनवेल्थ गेम्स में 10 मीटर एयर राइफल में रवि कुमार ने भी ब्रॉन्ज जीता

गोल्ड कोस्ट. 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स के चौथे दिन रविवार को भारत ने शूटिंग में पहला गोल्ड जीता। 16 साल की मनु भाकर ने वूमेन्स 10 मीटर एयर पिस्टल में देश को सोना दिलाया। साथ ही कॉमनवेल्थ गेम्स में रिकॉर्ड भी बनाया। मनु ने 240.9 अंक के साथ गोल्ड पर कब्जा जमाया। पिछले एक महीने में इंटरनेशनल लेवल पर यह उनका सातवां गोल्ड है। वहीं, वूमेन्स 10 मीटर एयर पिस्टल में भारत की ही हिना सिद्धू ने सिल्वर जीता। ऑस्ट्रेलिया की एलेना गालियबोविच ने ब्रॉन्ज मेडल जीता। उधर, 10 मीटर एयर राइफल में रवि कुमार ने भारत के लिए ब्रॉन्ज जीता। भारत इस कॉमनवेल्थ गेम्स में अब तक 6 गोल्ड, 1 सिल्वर और 2 ब्रॉन्ज मेडल जीत चुका है। वह मेडल टैली में अब तीसरे स्थान पर पहुंच गया है।

मनु से 7 अंक पीछे रहीं हिना
– मनु ने स्टेज वन में 50.9 और 101.5 अंक हासिल किए। वहीं, स्टेज 2 एलिमिनेशन राउंड में 240.9 अंक के साथ गोल्ड पर कब्जा जमाया।
– सिल्वर जीतने वाली हिना उनसे करीब 7 अंक पीछे रहीं। उन्होंने स्टेज वन में 46.1 और 95.5 अंक हासिल किए, जबकि स्टेज 2 एलिमिनेशन राउंड में 234 का स्कोर किया।
– एलेना ने स्टेज वन में 49.4 और 98.8, जबकि स्टेज 2 एलिमिनेशन राउंड में 214.9 का स्कोर किया।

सबसे कम उम्र में वर्ल्ड चैम्पियन बनने वाली पहली शूटर

– महज दो साल पहले शूटिंग में कॅरियर शुरू करने वाली मनु का यह एक महीने में सातवां गोल्ड है।
– हरियाणा के झज्जर की रहने वाली मनु ने पिछले महीने मेक्सिको में हुई इंटरनेशनल शूटिंग स्पोर्ट्स फेडरेशन (आईएसएसएफ) विश्वकप निशानेबाजी में 2 गोल्ड जीते थे। तब वह महज 16 साल की उम्र में वर्ल्ड चैम्पियन बनने वाली पहली शूटर बनीं थीं।
– मेक्सिको में उन्होंने पहले 10 मीटर एयर पिस्टल चैम्पियनशिप में गोल्ड जीता। इसमें उन्होंने दो बार की वर्ल्ड चैम्पियन मेक्सिको की एलेक्जेंड्रा जावाला को पीछे छोड़ा था। इसके बाद मिक्सड इवेंट में गोल्ड अपने नाम किया।
– मार्च में ही उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के सिडनी में हुए आईएसएसएफ जूनियर विश्वकप में अलग-अलग कैटेगरी में 4 स्वर्ण पदक अपने नाम किए।
मनु ने पिछले साल दिसंबर में जापान में हुई एशियन चैम्पियनशिप में सिल्वर जीता था। मनु ने 2017 में दो नेशनल रिकॉर्ड भी बनाए थे।

स्कूल के प्ले ग्राउंड से की थी शूटिंग की शुरुआत

– मनु यूनिवर्सल सीनियर सेकेंडरी स्कूल में 11वीं की छात्रा हैं। उन्होंने निशानेबाजी की शुरुआत अपने स्कूल के प्ले ग्राउंड से ही की थी। पहले स्कूल में कोच से ट्रेनिंग ली। बाद में नेशनल कोच यशपाल राणा ने उन्हें ट्रेनिंग दी। उन्हीं से शूटिंग के गुर सीखकर वह यहां तक पहुंची।
– मनु लेटेस्ट गाने चलाकर शूटिंग की प्रैक्टिस करती हैं। उन्हें मोटिवेशनल वीडियो और दंगल जैसी फिल्में देखना पसंद है।
– मनु खेल के साथ पढ़ाई में भी अव्वल हैं। सीबीएसई 10वीं की परीक्षा में उन्होंने स्कूल में टॉप किया था।

सिर्फ मेरी ही नहीं पूरे देश की बेटी है मनु : सुमेधा

– मनु के पिता रामकृष्ण भाकर मर्चेंट नेवी में इंजीनियर हैं। मां सुमेधा टीचर हैं। बड़ा भाई अखिल (18) आईआईटी की तैयारी कर रहा है।
– बेटी के गोल्ड मेडल जीतने पर सुमेधा ने कहा कि मनु तो गोल्डन गर्ल है। ये उसकी कड़ी मेहनत और पूरे देशवासियों की दुआओं का नतीजा है कि वह लगातार गोल्ड मेडल जीत रही है। मनु सिर्फ मेरी ही नहीं पूरे देश की बेटी है। सुमेधा ने बताया, “वह दो महीने से घर से बाहर है। इस बीच हम एक बार दिल्ली में उससे मिले थे। अब वह 16 अप्रैल को झज्जर लौटेगी।”


कराटे और थांग टा में भी जीत चुकी हैं मेडल


– मनु शूटिंग से पहले 6 अन्य खेलों में भी हाथ आजमा चुकी हैं। रामकिशन के अनुसार, ‘वह तो हर साल खेल बदलती है। वह अब तक कराटे, मणिपुर के मार्शल आर्ट थांग टा, टांता, स्केटिंग, स्वीमिंग और टेनिस भी खेल चुकी है।
– कराटे, थांग टा और टांता में नेशनल लेवल पर मेडल जीत चुकी हैं। टांता में वह लगातार तीन बार नेशनल चैम्पियन रही हैं। स्केटिंग की स्टेट लेवल की प्रतियोगिता में भी मेडल जीता है। मनु ने स्कूल लेवल पर स्वीमिंग और टेनिस भी खेला है।


रवि कुमार ने दिलाया बॉन्ज

– 10 मीटर एयर राइफल में भारत के रवि कुमार ने ब्रॉन्ज जीता। उन्होंने स्टेज-1 में 49.6 और 100.5 का स्कोर किया, जबकि स्टेज-2 एलिमिनेशन में 224.1 अंक हासिल किए।
– इस इवेंट में गोल्ड ऑस्ट्रेलिया के डैन सैम्पसन के नाम रहा। उन्होंने स्टेज-1 में 50.8 और 101.5 का स्कोर किया, जबकि स्टेज-2 एलिमिनेशन में 245 अंक हासिल किए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here