पंचतत्व में विलीन हो गए भारत के अटल रत्न

0
157

रहमन मुसाफिर चलना पड़ेगा काया कुटी खाली करना पड़ेगा
एक दिन तो सभी को पंचतत्व में विलीन होना ही है| पर अटल जी जैसा अटल विदाई शायद ही इस संसार में किसी को मिला होगा|

पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी पंचतत्व में विलीन हो गए. राष्ट्रीय स्मृति स्थल पर उन्हें नम आंखों से अंतिम विदाई दी गई.

बीजेपी कार्यालय से निकली उनकी शवयात्रा में हजारों की संख्या में नेता और कार्यकर्ता शामिल हुए.

देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजेपयी अब हमारे बीच नहीं रहे. दोपहर 2 बजे बीजेपी मुख्यालय से उनकी अंतिम यात्रा शुरू हुुई और राष्ट्रीय स्मृति स्थल पर उनका अंतिम संस्कार किया गया. गुरुवार को देश के पूर्व प्रधानमंत्री और भारतीय राजनीति के अजातशत्रु कहे जाने वाले भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vaajpayee) का 93 साल की उम्र में दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में गुरुवार को शाम में 5.05 बजे निधन हो गया. उनकी मौत की सूचना शाम में एम्स प्रशासन ने दी. पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी बीते 11 जून से एम्स में भर्ती थे.

सुबह 9 बजे उनके पार्थिव शरीर को दीनदयाल उपाध्याय मार्ग स्थित बीजेपी मुख्यालय पर रखा गया था जहां पर हजारों की संख्या में कार्यकर्ताओं का हूजुम उमड पडा. यहां दोपहर 2 बजे तक लोग अटल जी के अंतिम दर्शन करते रहे. इसके बाद अजातशत्रु वाजपेयी जी की अंतिम यात्रा निकली.अटल जी का अंतिम संस्कार दिल्ली के स्मृति स्थल पर किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here